44 वें संविधान संशोधन क्या है?

(A) समता का अधिकार
(B) शोषण के विरुद्ध अधिकार
(C) स्वतंत्रता का अधिकार
(D) उपर्युक्त में से कोई नहीं

Answer : समता का अधिकार
Explanation : भारत के संविधान में किए गए 44वें संशोधन के माध्यम से सम्पत्ति के अधिकार को, जिसके कारण संविधान में कई संशोधन करने पड़े, मूल अधिकार के रूप में हटाकर केवल विधिक अधिकार बना दिया गया। अभी तक यह अधिकार अनुच्छेद 19 के अंतर्गत स्वतंत्रता का एक मौलिक अधिकार था। फिर भी यह सुनिश्चित किया गया कि संपत्ति के अधिकार को मूल अधिकारों की सूची से हटाने से अल्पसंख्यकों के अपनी पसंद के शिक्षा संस्थानों की स्थापना करने और संचालन संबंधी अधिकारों पर कोई प्रभाव न पड़े। इसके अतिरिक्त, संविधान के अनुच्छेद 352 का संशोधन करके यह उपबंध किया गया कि आंतरिक गड़बड़ी, यदि यह सशस्त्र विद्रोह नहीं है तो आपात स्थिति की घोषणा के लिए आधार नहीं होगा।
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : 44 Va Samvidhan Sanshodhan Kya Hai