आर्थिक मंदी के समय सरकार को क्या अपनाना चाहिए?

(A) कर की दरों में कटौती के साथ-साथ ब्याज दर में वृद्धि करना
(B) सार्वजनिक परियोजनाओं पर व्यय में वृद्धि करना
(C) कर की दरों में वृद्धि के साथ-साथ ब्याज दर में कमी करना
(D) सार्वजनिक परियोजनाओं पर व्यय में कमी करना

Answer : सार्वजनिक परियोजनाओं पर व्यय में वृद्धि करना
Explanation : आर्थिक मंदी के समय सार्वजनिक परियोजनाओं पर व्यय में वृद्धि करना जैसे कदम उठाने की सर्वाधिक सम्भावना होती है, क्योंकि इससे लोगों को रोजगार मिलने के साथ ही, मुद्रा उनके पास पहुंचती है, जिससे उनके आय स्तर में भी वृद्धि होती है। आर्थिक गतिविधियों के सभी स्तरों में गिरावट का आना आर्थिक मन्दी का संकेत देता है, जैसे वर्ष 2007-09 में पूरी विश्व में आर्थिक मंदी थी। इसके संकेत इस प्रकार हैं, जैसे-आर्थिक विकास दर का गिरना, खपत में कमी आना, औद्योगिक उत्पादन में गिरावट आना, बेरोजगारी का बढ़ना आदि। सरकार को ऐसी दशा में निम्न कदम उठाने चाहिए; जैसे-जन कल्याण के काम को बढ़ाना, घरेलू बचत को बढ़ावा देना, सरकारी खर्च बढ़ाना एवं माँग को बढ़ाना आदि।
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Aarthik Mandi Ke Samaya Sarkar Ko Kya Apnana Chahiye