अम्लीय वर्षा का कारण किसकी सान्द्रता में वृद्धि है?

(A) SO2 तथा NO2
(B) CO तथा CO2
(C) CO तथा N2
(D) धूल तथा O3

Answer : SO2 तथा NO2
Explanation : ऐसी वर्षा जिसका pH मान 5.6 से कम हो अम्ल वर्षा कहलाती है। अम्लीय वर्षा की मुख्य कारण वायुमंडल में उपस्थित SO2 तथा NO2 की सान्द्रता में वृद्धि है। उल्लेखनीय है कि SO2 तथा NO2 गैस विभिन्न स्त्रोतों से उत्सर्जित होकर वायुमंडल में नमी को सोखने के बाद सल्फ्यूरिक अम्ल (H2SO4) तथा नाइट्रिक अम्ल (HNO3) का निर्माण करती है। यही अम्ल वर्षा की बूंदों के साथ मिलकर अम्ल वर्षा का निर्माण करती है। अम्ल वर्षा जलीय और स्थलीय दोनों प्रकार के जीवों को प्रभावित करती है। यह इमारतों तथा स्मारको को भी हानि पहुंचाती है। इसके अलावा पारितंत्र, मृदा, कृषि पाइपलाइन के क्षरण, भूमिगत जल स्रोत पर भी प्रभाव पड़ता है। मथुरा तेलशोधक कारखाने से निकलने वाली SO2 गैस ही आगरा के ताजमहल की तबाही का कारण बनी हुई है।
Tags : पर्यावरण प्रश्नोत्तरी
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Amliya Varsha Ka Karan Kiski Sandrata Mein Vrddhi Hai