आंध्र भोज की उपाधि किसने धारण की थी?

(A) राष्ट्रकूट गोविंद
(B) यादव राजा रामचंद्र
(C) होयसल राजा बल्लाल
(D) विजयनगर राजा कृष्णदेव राय

Question Asked : [UPPCS (Pre) GS Ist History 1995]
Answer : राष्ट्रकूट गोविंद
विजयनगर साम्राज्य में तुलुव वंश शासक कृष्णदेव राय सर्वाधिक प्रसिद्ध शासक था, उसने 1509 से 1530 तक शासन किया। इसने बहमनी सुल्तान महमूद को बरीद के चंगुल से मुक्त करा के 'यवनराज्य स्थापनाचार्य' का विरुद्ध धारण किया। कृष्णदेव राय सफल राजनीतिज्ञ, प्रशासक एवं विद्यानुरागी था। प्रसिद्ध तेलगु ग्रंथ 'अमुक्तमाल्यद' जो उसने स्वयं लिखी थी, में उसकी सैनिक, प्रशासनिक क्षमता पर प्रकाश पड़ता है। वह प्रजावत्सल शासक भी था। उसने तालाबों, नहरों का निर्माण कराया एवं बंजर भूमि को कृषि योग्य बनवाया। उसके दरबार में तेलगू के 7 विद्वान कवि रहते थे जिन्हें 'अष्ट दिग्गज' कहा जाता है। राजा कृष्णदेव राय ने 'आंध्र भोज' की उपाधि धारण की थी। कृष्ण देवराय का शासनकाल तेलगू साहित्य का स्वर्ण काल माना जाता है।
Tags : इतिहास प्रश्नोत्तरी, प्राचीन काल भारत, मध्यकालीन भारत
Useful for : UPSC, State PSC, SSC, Railway, NTSE, TET, BEd, Sub-inspector Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Andhra Bhoj Ki Upadhi Kisne Dharan Ki Thi