बहिर्मुखी व्यक्ति कौन होते हैं?

(A) जो सामाजिक व मित्रवत् होते हैं
(B) तनाव रहित होते हैं
(C) A और B दोनों
(D) उपरोक्त में से कोई नहीं

Answer : A और B दोनों
Explanation : मनोवैज्ञानिक युग ने व्यक्तित्व को बहिर्मुखी तथा अन्तर्मुखी दो भागों में बांटकर अध्ययन किया। उनका विचार था कि बहिर्मुखी व्यक्ति की अभिरुचि समाज + कार्यों की ओर विशेष रूप से होती है। वह अन्य लोगों से मिलना-जुलना पसन्द करता है तथा खुशमिजाज रहता है। जबकि अंतर्मुखी लोग अक्सर आपने आप में ही रहते है। वो कोई नए दोस्त नहीं बनाते और उनकी ज़िन्दगी में लोग बहुत कम होते है। वही बहिर्मुखी लोग काफी दोस्त बना लेते है। वो बहुत ही खुशमिजाज़ होते है और अक्सर हर किसी के साथ घुल मिल जाते है। बहिर्मुखी लोग अपना हर फैसला किसी और के साथ बात करके लेते है। वो लोगो से बात करते है और उनकी राय भी लेते है।
Tags : सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Bahirmukhi Vyakti Kaun Hote Hain