बहुविध प्रजा के सिद्धांत का प्रतिपादन ​किसने किया?

(A) सिग्मंड फ्रॉयड
(B) होवार्ड गार्डनर
(C) अल्बर्ट आइंस्टीन
(D) जीन पियाजे

Question Asked : [UP Higher Education Assistant Professor Exam 2016]
Answer : होवार्ड गार्डनर
बहुविध प्रज्ञा के सिद्धान्त का प्रतिपादन होवार्ड गार्डनर ने किया है। गार्डनर ने कहा कि बुद्धि का स्वरूप् एकाकी न होकर बहु-प्रकारीय होता है। उसने कुल सात तरह की बुद्धि बताते हुए कहा है कि ये सातों बुद्धि परस्पर एक-दूसरे से स्वतंत्र होती है एवं प्रत्येक के क्रियाशील होने के ढंग अलग-अलग होते हैं।
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Bahuvidh Praja Ke Siddhant Ka Pratipadan ​kisne Kiya