बंगाल में द्वैध शासन को किसने समाप्त किया?

(A) रॉबर्ट क्लाइव
(B) लॉर्ड कार्नवालिस
(C) वारेन हेस्टिंग्स
(D) उपरोक्त में से कोई नहीं

Answer : वारेन हेस्टिंग्स
Explanation : बंगाल में द्वैध शासन प्रणाली को वारेन हेस्टिंग्स ने समाप्त किया था। क्लाइव ने बंगाल में दोहरी सरकार कायम की, जिसमें वास्तविक शक्ति कंपनी के पास थी, पर प्रशासन का भार बंगाल के नवाब के कन्धें पर था। क्लाइव की इस प्रशासनिक व्यवस्था की विशेषता उत्तरदायित्वरहित अधिकार और अधिकार रहित उत्तरदायित्व थी। इस तरह दीवानी और निजामत, जिसमें दीवानी के अन्तर्गत राजस्व वसूल करने का अधिकार तथा निजामत के अंतर्गत सैनिक संरक्षण तथा विदेशी मामलों के अधिकार पूर्ण रूप से कंपनी के हाथों में आ गये। 1750 ई. में हेस्टिंस कंपनी के एक क्लर्क के रूप में कलकत्ता पहुंचा और अपनी कार्य कुशलता के कारण शीघ्र ही वह कासिम बाजार का अध्यक्ष बन गया। 1772 ई. में इसे बंगाल का गवर्नर बनाया गया और उसने उसी समय ही बंगाल में द्वैध् शासन को समाप्त किया।
Tags : आधुनिक इतिहास, इतिहास प्रश्नोत्तरी, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Bangal Me Dvaidh Shasan Ko Kisne Samapt Kiya