भारत में प्रजातंत्र किस तथ्य पर आधारित है?

(A) संविधान लिखित है
(B) यहां मौलिक अधिकार प्रदान किए गए हैं
(C) जनता की सरकाराें काे चुनने तथा बदलने का अधिकार प्राप्त है
(D) यह राज्य के नीति–निदेशक तत्व हैं

Answer : जनता की सरकाराें काे चुनने तथा बदलने का अधिकार प्राप्त है
Explanation : भारत में प्रजातंत्र जनता की सरकाराें काे चुनने तथा बदलने के अधिकार तथ्य पर आधारित है। भारत में प्रजातंत्र इस बात से झलकता है कि यहां पर जनता सांसदों/विधयकों के निर्वाचन के माध्यम से अपनी मनोनुकूल सरकार का चुनाव सीधे करती है। प्रजातंत्र में दो प्रमुख प्रणालियां होती हैं। एक राष्ट्रपति प्रणाली और दूसरी संसदीय प्रणाली। राष्ट्रपति प्रणाली में जनता स्वयं अपना राष्ट्रपति चुनती है और राष्ट्रपति सीधे जनता के प्रति उत्तरदायी होता है न कि संसद के प्रति। राष्ट्रपति प्रणाली में कार्यपालिका और विधायिका बिलकुल अलग-अलग होती हैं। राष्ट्रपति तो सीधे जनता द्वारा चुना ही जाता है पर उसके मंत्रिमंडल के सदस्य भी संसद से नहीं हो सकते। राष्ट्रपति को स्वयं अपनी टीम पेशेवर लोगों में से चुनकर बनानी होती है। हाँ, संसद केवल मंत्रिमंडल के मनोनीत सदस्यों के नामों पर मुहर लगाती है। दूसरी प्रणाली भारत की तरह संसदीय प्रणाली है जहाँ प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति दोनों का चुनाव परोक्ष रूप से जनता के चुने हुए प्रतिनिधियों द्वारा किया जाता है। मंत्रिमंडल का सदस्य भी संसद का सदस्य होना अनिवार्य है। अतः यहाँ विधायिका और कार्यपालिका मिश्रित है।
Tags : भारत का संविधान, भारतीय संविधान प्रश्नोत्तरी, राजव्यवस्था प्रश्नोत्तरी
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, RRB Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Bharat Me Prajatantra Kis Tathya Par Aadharit Hai