भारत में किसे फांसी की सजा नहीं दी जा सकती?

(A) पागल
(B) गर्भवती महिला
(C) नाबालिग बच्चों
(D) उपयुक्त सभी कों

Answer : पागल, गर्भवती महिला व नाबालिग बच्चों को
Explanation : भारत में पागल, गर्भवती महिला व नाबालिग बच्चों को फांसी की सजा नहीं दी जा सकती। भारत में दुर्लभतम मामलों में मौत की सज़ा दी जाती है। इसलिए फांसी की सजा देने वाले जज को फ़ैसले लिखना होता है कि मामले को दुर्लभतम (रेयरेस्ट ऑफ़ द रेयर) क्यों माना गया है। फांसी की सजा बहुत घिनौने तरीक़े से या बेहद क्रूर अपराधों में ही दी जाती है। फांसी की सजा का फ़ैसला आ जाने के बाद अभियुक्त राज्यपाल या राष्ट्रपति से मृत्युदंड माफ़ करने की अर्जी दे सकता है। इसतरह जब तक इस अर्जी पर फ़ैसला न आ जाए दोषी को मौत की सज़ा नहीं दी जा सकती। राष्ट्रपति मृत्युदंड की सज़ा माफ़ कर सकते हैं। साथ ही जिस राज्य की अदालत ने मौत की सज़ा दी है वहाँ के राज्यपाल के पास भी माफ़ी देने का क़ानूनी अधिकार है।
Tags : रोचक प्रश्नोत्तर
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Bharat Mein Kise Fasi Ki Saja Nahi Di Ja Sakti