भारत में सबसे पहले कन्या पाठशाला की स्थापना कब हुई?

(A) 1845 में
(B) 1848 में
(C) 1946 में
(D) 1945 में

Answer : 1848 में
Explanation : भारत में सबसे पहले कन्या पाठशाला की स्थापना 1848 में हुई। इस ​पाठशाला की स्थापना भारत की प्रथम महिला शिक्षिका सावित्रीबाई फुले ने अपने पति के साथ मिलकर पुणे के भिड़ेवाड़ी इलाके में की थी। विभिन्न जातियों की 9 छात्राओं के लिए यह विद्यालय बनाया गया था। तब लड़कियों की शिक्षा पर सामाजिक पाबंदी थी। इसके बाद सिर्फ एक वर्ष में सावित्रीबाई और महात्मा फुले 5 नए विद्यालय खोलने में सफल हुए। पुणे में पहले स्कूल खोलने के बाद फूले दंपति ने 1851 में पुणे के रास्ता पेठ में लड़कियों का दूसरा स्कूल खोला और 15 मार्च 1852 में बताल पेठ में लड़कियों का तीसरा स्कूल खोला। उनकी बनाई हुई संस्था 'सत्यशोधन समाज' ने 1876 और 1879 के अकाल में अन्न सत्र चलाया और अन्न इकटठा करके आश्रम में रहने वाले 2000 बच्चों को खाना खिलाने की व्यवस्था की। 1897 में पुणे में प्लेग फैला था और इसी महामारी की वजह से 66 वर्ष की उम्र में सावित्रीबाई फुले का 10 मार्च 1897 को पुणे में निधन हो गया था।
Tags : मुख्यालय
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Bharat Mein Sabse Pahle Kanya Pathshala Ki Sthapana Kab Hui