बुद्ध पूर्णिमा क्यों मनाई जाती है?

(A) बुद्ध ने पाप और मृत्यु के बारे में जाना
(B) भगवान बुद्ध का जन्म के कारण
(C) बुद्ध का गृहत्याग
(D) बुद्ध की मृत्यु

Answer : भगवान बुद्ध का जन्म के कारण
Explanation : बुद्ध पूर्णिमा इसलिए मनाई जाती है क्योंकि इस दिन भगवान बुद्ध का जन्म हुआ था और कठिन साधना के बाद बुद्धत्व की प्राप्ति भी हुई थी। बुद्ध पूर्णिमा वैशाख पूर्णिमा के दिन मनाई जाती है। ऐसी मान्यता है कि बुद्ध भगवान श्री हरि विष्णु के 9वें अवतार थे। हिंदू शास्त्रों के अनुसार, बुद्ध 29 वर्ष की आयु में घर छोड़कर सन्यास का जीवन बिताने लगे थे। उन्होंने एक पीपल वृक्ष के नीचे करीब 6 वर्ष तक कठिन तपस्या की। वैशाख पूर्णिमा के दिन ही भगवन बुद्ध को पीपल के वृक्ष के नीचे सत्य के ज्ञान की प्राप्ति हुई थी। भगवान बुद्ध को जहां ज्ञान की प्राप्ति हुई वह जगह बाद में बोधगया कहलाई। इसके पश्चात महात्मा बुद्ध ने अपने ज्ञान का प्रकाश पूरी दुनिया में फैलाया और एक नई रोशनी पैदा की। महात्मा बुद्ध का महापरिनिर्वाण वैशाख पूर्णिमा के दिन ही कुशीनगर में 80 वर्ष की आयु में हुआ था। भगवान गौतम बुद्ध का जन्म, सत्य का ज्ञान और महापरिनिर्वाण एक ही दिन यानी वैशाख पूर्णिमा के दिन ही हुआ। इस कारण वैशाख महीने में पूर्णिमा के दिन ही बुद्ध पूर्णिमा मनाई जाती है।
Tags : बुद्ध पूर्णिमा
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
नवीनतम करेंट अफेयर्सजीके 2021 के लिए GKPU फ़ेसबुक पेज को Like करें
Related Questions
Web Title : Buddha Purnima Kyu Manai Jati Hai