चील के घोंसले में मांस कहां का अर्थ और वाक्य प्रयोग

(A) पूर्ण जानकार से बहकना
(B) प्रसिद्धि के अनुसार गुण न होना
(C) गरीब का भगवान ही भरोसा होता है
(D) जहां कुछ भी बचने का संम्भावना न हो

Answer : जहां कुछ भी बचने का संम्भावना न हो
b>Explanation : चील के घोंसले में मांस कहां का अर्थ cheel ke ghosle mein maans kahan है 'जहां कुछ भी बचने का संम्भावना न हो।' हिंदी लोकोक्ति चील के घोंसले में मांस कहां का वाक्य में प्रयोग होगा – जिस गोदाम का रक्षक ही भ्रष्ट एवं भक्षक हो तो भरे हुए गोदाम की भी हालत शीघ्र ही 'चील के घोंसले में मांस कहां?' जैसी हो जाती है। हिन्दी मुहावरे और लोकोक्तियाँ में 'चील के घोंसले में मांस कहां' जैसे मुहावरे कई प्रतियोगी परीक्षाओं जैसे संघ लोक सेवा आयोग, कर्मचारी चयन आयोग, बी.एड., सब-इंस्पेटर, बैंक भर्ती परीक्षा, समूह 'ग' सहित विभिन्न विश्वविद्यालयों की प्रवेश परीक्षाओं के लिए काफी महत्वपूर्ण साबित होते है।
Tags : लोकोक्तियाँ एवं मुहावरे, हिंदी लोकोक्तियाँ, हिन्दी मुहावरे और लोकोक्तियाँ
Useful for : UPSC, State PSC, SSC, Railway, NTSE, TET, BEd, Sub-inspector Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Cheel Ke Ghosle Mein Maans Kahan