साइबर क्राइम हेल्पलाइन नंबर 155260 उत्तर प्रदेश

Answer : 155260
Explanation : साइबर क्राइम हेल्पलाइन नंबर उत्तर प्रदेश का हैं- 155260, अगर आपके खाते से ऑनलाइन फ्रॉड कर रकम निकाल ली जाती है तो अब परेशान होने की जरूरत नहीं है। उत्तर प्रदेश साइबर क्राइम हेल्पलाइन नंबर 155260 पर आप तत्काल फ्राड की सूचना दें। आपके खाते से ट्रांसफर की गई रकम जिस भी खाते में गई होगी उसे सीज कर दिया जाएगा। बाद में आपसे ब्लैंक क्रास चेक लेकर फ्राड की रकम को लौटा दिया जाएगा।

एडीजी साइबर क्राइम राम कुमार ने बताया कि ओटीपी पूछकर खातों से रकम उड़ाने की शिकायतें लगातार आती रहती हैं। जिन मामलों में ओटीपी पूछकर रकम निकाली जाती है, उसमें बैंक भी कुछ नहीं कर पाता। पर, अब साइबर क्राइम के हेल्पलाइन नंबर पर पूरी जानकारी अपलोड होते ही संबंधित बैंक को अलर्ट मिल जाएगा। फिर बैंक जिस खाते में पैसा गया है, उस खाते से पैसे की निकासी पर तत्काल रोक लगा देगी। लेकिन इसके लिए फ्रॉड की सूचना बैंक से पैसा निकलने के 24 घंटे के भीतर देना होगा। केवल एक ही स्थिति में पैसा वापस मिलना मुश्किल होता है, जब फ्रॉड करने वाले ने पैसा कैश निकाल लिया हो। इसके अलावा जरूरी नहीं है कि किसी बैंक के खाते में गया है, तभी फ्रीज किया जाएगा। पैसा किसी ई वॉलेट जैसे पेटीएम, फोनपे, मोबिक्विक आदि में भी गया हो तो भी वापस मिल सकता है। हेल्पलाइन नंबर 155260 पर शिकायत करने के बाद पीड़ित इसकी स्थिति नेशनल साइबर क्राइम के पोर्टल पर देख सकता है और जानकारी अपडेट कर सकता है।
Tags : पुरस्कार और सम्मान
Related Questions
Web Title : Cyber Crime Helpline Number Uttar Pradesh