साइबर क्राइम का टोल फ्री नंबर क्या है?

Answer : नया नंबर 1930
साइबर क्राइम का नया टोल फ्री नंबर 1930 है। गृह मंत्रालय भारत सरकार ने साइबर क्राइम का पुराना हेल्पलाइन नंबर 155260 अब बंद कर दिया गया है। इसकी जगह अब नया टोल फ्री नंबर 1930 कर दिया है और लोग अब इसी नंबर पर साइबर क्राइम से जुड़ी शिकायत दर्ज करा सकेगें। जिससे पुलिस ऑनलाइन ठगी (Online fraud) के शिकार लोगों की तत्काल सहायता करेगी। गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों को इस नया नंबर 1930 को चालू करने का आदेश भी दे रखा है।

साइबर सेल में शिकायत ऐसे करें –
► शिकायतकर्ता को 1930 पर फोन कर अपना मोबाइल नंबर, फ्रॉड ट्रांजेक्शन नंबर, धनराशि और अपराध की तिथि बतानी होगी।
► सूचना देने के बाद शिकायतकर्ता को एसएमएस के माध्यम से लॉगिन आईडी. रिफरेंस नंबर प्राप्त होगा, जिसका उपयोग कर 24 घंटे के भीतर नेशनल साइबर क्राइम रिपोटिंग पोर्टल https://cybercrime.gov.in/ पर शिकायत दर्ज कराना अनिवार्य है।
► इस सुविधा के उपयोग से वित्तीय साइबर धोखाधड़ी के शिकार व्यक्ति की धनराशि रिकवर-वापस कराने में मदद मिलेगी।
► हेल्पलाइन पर एक्सपर्ट प्रतिनिधि बात करते हैं। इसके बाद अपनी कार्रवाई आगे बढ़ाते हैं।
► जिन खातों और ई-वॉलेट में रकम जाती है, इन बैंक और ई-वॉलेट कंपनी को ईमेल के माध्यम से हेल्पलाइन द्वारा जानकारी भेजी जाती है। इससे रकम को आगे निकलने से रोका जाता है। खातों को ब्लॉक कर दिया जाता है।
► एक बार रकम रुकने पर पीड़ित के खाते में वापस कराई जा सकती है। घटना होने के कुछ देर बाद ही सूचना देने पर रकम वापस की ज्यादा उम्मीद रहती है।
Tags : टोल फ्री नंबर
Related Questions
Web Title : Cyber Crime Ka Toll Free Number Kya Hai