डाटा साइंस कोर्स कितने साल का होता है?

Answer : एक से दो साल का
Explanation : डाटा साइंस कोर्स 1 से 2 साल का होता है। सर्टिफिकेट और डिप्लोमा कोर्स की 3 से 6 महीने का होता है। जबकि बैचलर डिग्री 4 साल तथा मास्टर डिग्री 2 साल की होती है। डेटा साइंटिस्ट बनने के लिए कंप्यूटर साइंस, मैथ्स, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, आईटी या इससे संबंधित फील्ड में बैचलर की डिग्री होना जरूरी है। बैचलर डिग्री हासिल करने के बाद एक से दो साल में बतौर डेटा साइंटिस्ट महारत प्राप्त हो सकती है। इसके बाद आप काम करते हुए मास्टर्स की डिग्री के लिए आवेदन कर सकते हैं। भारत में कई यूनिवर्सिटी डेटा साइंस में एमटेक करवाती हैं, जो डिस्टेंस लर्निंग में भी उपलब्ध है। अधिकतर डेटा साइंटिस्ट के पास मास्टर या पीएचडी डिग्री होती है। तभी एक सफल डेटा साइंटिस्ट बन पाते हैं।

डेटा साइंस और एनालिस्ट के लिए देश में कई संस्थानों द्वारा बिजनेस ऐनालिटिक्स स्पेशलाइजेशन में शॉर्ट टर्म कोर्स कराए जा रहे हैं। साथ ही उडेमी, कोर्सेरा जैसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म भी हैं। संस्थान के नाते आईआईएम कोलकाता, आईएसआई कोलकाता और आईआईटी खड़गपुर मिल कर दो वर्षीय फुल टाइम पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बिजनेस ऐनालिटिक्स प्रोग्राम करवा रहे हैं। इसके अलावा एडवांस्ड सर्टिफिकेट प्रोग्राम इन बिजनेस ऐनालिटिक्स, एग्जीक्यूटिव प्रोग्राम इन बिजनेस ऐनालिटिक्स, एडवांस्ड बिजनेस ऐनालिटिक्स ऐंड बिजनेस ऑप्टिमाइजेशन प्रोग्राम, मास्टर्स इन मैनेजमेंट, पोस्ट ग्रैजुएट सर्टिफिकेट प्रोग्राम इन मार्केट रिसर्च ऐंड डेटा ऐनालिटिक्स, पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बिजनेस ऐनालिटिक्स जैसे कोर्स भी उपलब्ध हैं।
Related Questions
Web Title : Data Science Course Kitne Saal Ka Hota Hai