दुनिया की पहली उड़ने वाली कार का निर्माण कहाँ होगा?

दुनिया की पहली उड़ने वाली कार का निर्माण गुजरात में होगा। इसकी कीमत करीब 4.3 करोड़ रुपए है जो ‘मेक इन इंडिया’ भी होंगी। कंपनी इस कार का प्रोडक्शन और पहली डिलीवरी 2021 में शुरू कर देगी। कंपनी को तकरीबन 100 कारों के एडवांस ऑर्डर भी मिल चुके हैं। उड़ने वाली कार बनाने वाली कंपनी PAL-V ने इसे वर्ष 2018 के जिनेवा इंटरनेशनल मोटर शो में पेश किया था। इसका नाम पर्सनल एयर लैंडिंग व्हीकल या पाल-वी रखा गया है। हवा में इसकी सबसे तेज गति 200 मील प्रति घंटा है। वहीं, सड़क पर इसकी गति 100 मील प्रति घंटा है। आपको बता दे कि यह कोई हेलीकॉप्टर नहीं है, जिसमें ब्लेड को इंजन से पावर दी जाती हो। यह एक गायरोप्लन है, जिसके ब्लेड एयरफ्लो की मदद से चलते है। अगर कार के दोनों इंजन को बंद कर दिया जाएं, तब भी ब्लेड चलते रहेंगे। यह कार कार्बन फाइबर, टाइटेनियम और एल्यूमिनियम से बनाई गई है। जिसका वजन 680 किलोग्राम है। कार में दो लोगों के बैठने की जगह होगी। इसे उड़ान भरने के लिए 549 फीट रनवे और टेकऑफ के लिए 100 फीट की जरूरत होती है। इस गाड़ी के ऊपर रियर प्रोपेलर लगे हैं जिन्हें जब चाहे हटाया जा सकता है। इनकी मदद से यह गाड़ी 12,500 फीट की ऊंचाई पर उड़ सकती है। कार को चलाने के लिए गैसोलीन की जरूरत पड़ती है।

(A) ​तमिलनाडु
(B) ओडिशा
(C) गुजरात
(D) कर्नाटक

Answer : गुजरात
Tags : करेंट अफेयर्स प्रश्नोत्तरी, रोचक प्रश्नोत्तर
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Duniya Ki Pahli Udane Wali Car Ka Nirman Kaha Hoga