फलों और सब्जियों में विटामिन की सूची

फलों और सब्जियों में विटामिन की सूची (List of Vitamins in Fruits and Vegetables in Hindi) : फल और सब्जी हमारे स्वास्थ्य के बेहद जरूरी है। क्योंकि यह हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। हर दिन फल खाने से शरीर सेहतमंद रहता है। लेकिन हर फल और सब्जी हमें बराबर पोषण नहीं देता है। हरेक फल और सब्जी में अलग-अलग विटामिन यानि पोषक तत्व पाये जाते है, जो शरीर को गंभीर बीमारियों से बचाते है। इसलिए इनकी जानकारी होना हमारे लिए अति आवश्यक है, तो आइये जानते है कि किस फल और सब्जी में कौन सा विटामिन पाया जाता है और उसकी कमी से हमारे शरीर पर क्या प्रभाव पड़ता है।

फलों और सब्जियों में पाये जाने वाले विटामिनों की सूची

विटामिन स्रोत लाभ एवं कमी से होने वाली हानियां
विटामिन ‘ए’ गाजर, पत्तागोभी, कद्दू, पालक, टमाटर, अंगूर, आम, पपीता, तरबूज और गाय का दूध हड्डियों को मजबूती देना, इसकी कमी से रतौंधी रोग व मसूढ़ों का कमजोर होना एवं संक्रमण होना
विटामिन ‘बी’ भाजी, भुट्टा, ग्वार, भिंडी, आलू, अनार, आम, तरबूज, अमरूद एवं गाय का दूध मांसपेशियों को मजबूत बनाना एवं मस्तिष्क को चुस्त रखना
विटामिन ‘बी 2’ ग्वार, कद्दू, मटर, शकरकंद, केला, अंगूर, आम और अनार लाल ग्रंथियों का निर्माण करता है, इसकी कमी से त्वचा रोग व जीभ का फटना एवं आंखों का लाल होना
विटामिन ‘बी 3’ भुट्टा, भिंडी, मटर, टमाटर और शकरकंद भोजन को ऊर्जा में परिवर्तित करना, इसकी कमी से बालों का सफेद होना, मंदबुद्धि होना
विटामिन ‘बी 5’ भिंडी, आलू, कद्दू, शकरकंद, ग्वार, अमरूद, अनार एव तरबूज शरीर में नए हार्मोन बनाता है, इसकी कमी से त्वचा में दाग होना
विटामिन ‘बी 6’ शिमला मिर्च, मटर, भिंडी एवं आलू इसकी कमी से एनीमिया, त्वचा रोग, चक्कर आना, चिड़चिड़ापन
विटामिन ‘बी 7’ फूलगोभी कच्चा इसकी कमी से अधरंग, शरीर में दर्द और बालों का गिरना
विटामिन ‘बी 9’ पालक, टमाटर, पत्तागोभी, भिंडी, आलू, पपीता, अमरूद और अनार फोलिक एसिड अधिक मात्रा में गर्भवास्था के पूर्व व पश्चात् आवश्यक तत्व
विटामिन ‘सी’ टमाटर, नींबू, संतरा, शिमला मिर्च, मूली के पत्ते, हरा धनिया, पालक, संतरा, आंवला और अंगूर रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि प्रदान करना, कैंसर व हृदय संबंधी रोगों को होने से रोकना, रक्त चाप को नियंत्रित रखना, इसकी कमी से मसूढ़ों में खून का बहना, हड्डियों में कमजोरी व उच्च रक्तचाप की बीमारी का होना
विटामिन ‘ई’ आलू, हरी पत्तेदार सब्जियां इसकी कमी से नजर का कमजोर होना, चलते हुए लडखड़ाना तथा कमजोर जनन क्षमता
विटामिन ‘के’ पत्तागोभी, गाजर, फूलगोभी, भिंडी, पालक, मटर, टमाटर, आम, अंगूर एवं अनार इसकी कमी से रक्त का थक्का बनता है
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Web Title : Falon Aur Sabjiyon Mein Vitamin Ki Suchi