‘जजमानी व्यवस्था’ का सर्वप्रथम अध्ययन किसने ​किया?

(A) एस सी दुबे
(B) एम एन श्रीनिवास
(C) एच एम जान्सन
(D) डब्ल्यू एच वाइजर

Question Asked : उत्तर प्रदेश प्रवक्ता भर्ती परीक्षा, 2016
Answer : डब्ल्यू एच वाइजर
Explanation : 'जजमानी व्यवस्था' का सर्वप्रथम अध्ययन डब्लू. एच. वाइजर ने ​किया था। डब्ल्यू. एच वाइजर अमरीकन मानवशास्त्री थे, उन्होंने अपने उत्तर प्रदेश के एक गांव के अध्ययन में, यह पाया कि विभिन्न जातियों द्वारा वस्तुओं और सेवाओं के उत्पादन का आदान-प्रदान होता था। वहीं रूपांतर के साथ, यह प्रणाली पूरे भारत में मौजूद थी। बता दे कि औपनिवेशिक युग में जाति व्यवस्था ने काफी गहराई तक जड़ें जमाई हुई थीं। उस वक़्त प्रत्येक जाति के सदस्यों को पैदा होते ही उपहार स्वरुप मिली परंपराओ और कार्य का पालन करना होता था, हालांकि विभिन्न जातियों को सामाजिक रूप से अलग किया गया, फिर भी उस समय कई जातियां एक दूसरे पर निर्भर रहती थी। इस तरह की परस्पर निर्भरता को 'जजमानी प्रणाली' का नाम दिया गया था।
Tags : समाजशास्त्र प्रश्नोत्तरी
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Jajmani Vyavastha Ka Sarvapratham Adhyayan Kisne ​kiya