जीवन साथी चुनने के अधिकार किस श्रेणी में रखा है?

(A) मौलिक अधिकार
(B) संविधिक अधिकार
(C) नीति निदेशक तत्व
(D) मौलिक कर्तव्य

Answer : मौलिक अधिकार
Explanation : जीवन साथी चुनने के अधिकार को मौलिक अधिकार की श्रेणी में रखा है। मुम्बई बनाया यूनियन ऑफ इंडिया के मामले में उच्चतम न्यायालय ने कहा कि उद्देशिका संविधान का अभिन्न अंग है। केशवानन्द भारतीय बनाम करेल राज्य के मामले में भी अधिकांश न्यायाधीशों ने इसे संविधान का भाग माना। हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि जीवन साथी चुनने का अधिकार एक मौलिक अधिकार, दो व्यस्कों के बीच शादी के लिए परिवार, समुदाय या कबीले की सहमति आवश्यक नहीं है।
Tags : राजव्यवस्था प्रश्नोत्तरी
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Jeevan Sathi Chunne Ka Adhikar Kis Shreni Mein Rakha Hai