जेठ की अमावस्या कब है 2021

Answer : 10 जून 2021
2021 में जेठ महीने की अमावस्या 10 जून को है। हर अमावस्या का सनातन धर्म में बड़ा महत्व है। परंतु ज्येष्ठ अमावस्या का विशेष महत्व है, क्योंकि इस तिथि को न्यायकारक ग्रह शनि देव का जन्म हुआ था। आमतौर से शनि का नाम सुनते ही लोग भयभीत हो जाते हैं। हो भी क्यों न, ग्रहों के राजा सूर्य के पुत्र शनि की दृष्टि ने सूर्य देव को ही रोगी बना दिया था, जिसे उन्होंने शिव की तपस्या कर दूर किया था। इसलिए शानि देव की पूजा करे और पूजा के बाद सरसों के तेल, काले तिल, काली उड़द की दाल, पादुकाओं आदि का दान अवश्य करना चाहिए। ऊनी वस्त्र का दान शुभ फलदायक होता है। शनि देव को प्रसन्न करने के लिए अपने बुजुर्गों,सास-ससुर, माता-पिता, सेवकों का सम्मान करना चाहिए। पीपल के पेड़ में सूर्योदय से पहले जल दें और पूजा करते समय ध्यान रखें कि आप शनि देव का मुख न देखें, केवल पैरों को ही देखें। शमी वृक्ष की सेवा भी फलदायक होती है। गणेश मंत्र और हनुमान चालीसा के नियमित सात बार के पाठ से शनि भगवान प्रसन्न रहते हैं। शनि की साढ़ेसाती में ही भारत के कई नेता प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री भी बने हैं।
Tags : कब है
Related Questions
Web Title : Jeth Ki Amavasya Kab Hai