खतरे का सिग्नल लाल क्यों होता है?

1. खतरे का सिग्नल लाल क्यों होता है?
लाल रंग की तरंगदैर्घ्य सबसे अधिक होती है। अत: लाल रंग की प्रकीर्णन बहुत कम होता है। फलस्वरूप वायुमंडल में धुंध अथवा कोहरा होने पर भी लाल रंग का सिग्नल बहुत दूर से दिखाई पड़ता है।

2. रबर की गेंद भूमि पर गिरकर उछलती है, क्यों?
रबर की गेंद जमीन पर गिरती है तो वह थोड़ा पिचक जाती है। प्रत्यास्थता के कारण गेंद पुन: अपनी सामान्य अवस्था प्राप्त करना चाहती है और वह भूमि पर दबाव डालती है। अत: न्यूटन के गति के तृतीय नियम के अनुसार वह ऊपर उछलती है। गेंद जितनी शक्ति से भूमि पर गिरेगी उतना ही उसमें उछाल भी अधिक होगा।

3. मांस खाने पर पच जाता है परंतु आहर नली जो स्वयं भी मांस की बनी है, क्यों नहीं पच पाती?
पाचन की क्रिया विभिन्न प्रकार के एंजाइमों के सहयोग के फलस्वरूप संपन्न होती है। आहार नली के विभिन्न भागों द्वारा भोजन के विभिन्न भागों जैसे — प्रोटीन, वसा तथा कार्बोहाइड्रेट के पाचन के लिए विभिन्न प्रकार के एंजाइम निकलते है परंतु इन एंजाइमों की क्रिया केवल भोजन पर होती है न कि आहार नली के दिवार पर, क्योंकि आहार नली की भीतरी सतह श्लेष्म की 1 से 3 मिलीलीटर मोटी परत से स्तरित होती है। जिस पर किसी एंजाइम का प्रभाव नही होता अत: आहारनाल को कोई हानि नही होता है।

4. यदि पृथ्वी की आकर्षण शक्ति न हो तो क्या हो?
गुरुत्वाकर्षण शक्ति की अनुपस्थिति में सभी वस्तुएं उत्प्लावन की स्थिति में आ जाएगी। पृथ्वी की दैनिक गति से उत्पन्न अपकेन्द्रित बल के कारण सभी वस्तुएं दूर हवा में फेंक दी जाएंगी अत: कोई वस्तु सामान्य ढंग से नहीं रह पायेगी व पृथ्वी पर जीवन असंभव हो जाएगा।

Useful for Exams : Central and State Government Exams
Related Exam Material
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Web Title : khatre ka signal lal kyon hota hai