किसने अपने ‘खंडकाव्य’ के ‘लघु काव्य’ कहा है?

(A) जगदीश गुप्त
(B) मैथिलीशरण गुप्त
(C) रामधारी सिंह दिनकर
(D) धर्मवीर भारती

Answer : जगदीश गुप्त
Explanation : जगदीश गुप्त ने अपने ‘खंडकाव्य' को 'लघुकाव्य' कहा है। 'शबूक को मैं खंडकाव्य' की जगह 'लघुकाव्य' कहना अधिक पसंद करूंगा, क्योंकि खंडकाव्य मेरे मन को किसी टूटी हुई वस्तु का बोध कराता है। लघुकाव्य शब्द भी सापेक्षिक है, पर उससे वह बोध उत्पन्न नहीं होता। इसी तरह 'राजद्वार' आदि को मैं 'सर्ग' की जगह 'अंश' कहना अधिक संगत समझता हूं, 'सर्ग' शब्द परम्परा सिद्ध और सम्मान्य होते हुए भी अब मुझे आकर्षक नहीं लगता, अश में अशों के साथ एकता का भाव अधिक दिखाई देता है।'
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Kisne Apne Khandkavya Ke Laghu Kavya Kaha Hai