कृष्णदेव राय का अमुक्तमाल्यद किस भाषा में लिखा गया है?

(A) संस्कृत
(B) तमिल
(C) तेलगू
(D) कन्नड़

Question Asked : [UPPCS (Pre) GS Ist History 2003]
Answer : तेलगू
विजय नगर के शासकों में कृष्ण देवराय सबसे मघन शासक था। वह एक महान निर्माता होने के साथ-साथ तेलगू एवं संस्कृत का मेधावी विद्वान भी था।। उसने कई पुस्तकें लिखी जिसमें से केवल एक अंमुक्तमल्पर्ट, तेलगू, प्राप्त हो सकी। उसके दरबार में तेलगू के आठ महान कवि थे जिसे अष्ट दिग्गज कहा जाता था। इन्हीं कवियों में वेदना भी शामिल था। इन्हीं सांस्कृतिक एवं साहित्यिक कवियों की वजह से कृष्ण देव राय को 'आंध्र का भोज' की उपाधि दी गई।
Tags : इतिहास प्रश्नोत्तरी, प्राचीन काल भारत, मध्यकालीन भारत
Useful for : UPSC, State PSC, SSC, Railway, NTSE, TET, BEd, Sub-inspector Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Krishnadev Rai Ka Amuktamalyada Kis Bhasha Mein Likha Gaya Hai