क्योटो प्रोटोकॉल क्या है?

(A) यह ग्लोबल वार्मिग को कम करने हेतु प्रयत्न करने के लिये देशों के बीच एक समझौता हैं।
(B) यह अम्ल वर्षा का कम करने हेतु प्रयत्न करने के लिये देशों के बीच एक समझौता है।
(C) यह प्रदूषण को नियंत्रित करने हेतु पौधे लगाने के लिये प्रयत्न करने के लिये देशों के बीच एक समझौता है।
(D) यह परमाणु ऊर्जा का उपयोग शुरू करने के लिये देशों के बीच एक समझौता है।

Question Asked : [Assistant Professor (Lecturer) Exam 2014]
Answer : यह ग्लोबल वार्मिग को कम करने हेतु प्रयत्न करने के लिये देशों के बीच एक समझौता हैं।
ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जन में अनियंत्रित वृद्धि को रोकने हेतु 11 दिसम्बर 1997 ई. में जापान के क्योटो शहर में एक कानूनी बाध्यकारी समझौता हुआ, जिसके ​तहत संधि में शामिल 37 विकसित देशों से सामूहिक रूप से ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जन को 1990 के स्तर पर लागने के लिये 2008 से 2012 तक 5.2% कटौती करने का प्रावधान है। प्रोटोकाल में यह भी उल्लिखित है कि इसे लागू करने हेतु सम्मेलन में शामिल 55 देशों, जिसमें 37 विकसित देश भी शामिल है, द्वारा इनकी पुष्टि होनी चाहिए। 4 नवम्बर, 2004 को रूस द्वारा संधि पर हस्ताक्षर को पश्चात 16 फरवरी 2005 को क्योटो प्रोटोकाल प्रभावी हो गया।
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Kyoto Protocol Kya Hai