लूर नृत्य कब किया जाता है?

(A) तीज
(B) होली
(C) गणगौर पूजा
(D) दीपावली

Answer : होली
Explanation : लूर नृत्य होली से दो सप्ताह पूर्व किया जाता है। लूर का अर्थ लड़की होता है इसलिए यह लड़कियों और महिलाओं का प्रमुख नृत्य है। फाल्गुन मास में आयोजित होने वाले इस नृत्य को 'टुनमुनिया' के नाम से भी जाना जाता है। इस नृत्य में पुरुषों का प्रवेश नहीं होता है। इस नृत्य में लड़कियां तथा महिलाएं परस्पर दो टोलियों में बँट जाती हैं। इसमें एक टोली पुरुषों का अभिनय करती है। दोनों टोलियां परस्पर प्रश्नोत्तर, वाद-विवाद तथा अनुनय-विनय की अदाओं के साथ नृत्य करती हैं। इस नृत्य में लड़कियां तथा महिलाएं घाघरा, कुर्ती, चुन्दरी आदि वस्त्र धारण करती हैं। यह नृत्य किसी खुले स्थान पर चांदनी रात में आयोजित किया जाता है।
Tags : हरियाणा प्रश्नोत्तरी
Useful for : Quiz Programme, Interview & Competitive Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Loor Nritya Kab Kiya Jata Hai