मध्याह्न भोजन योजना का अर्थ क्या है?

(A) वयस्क साक्षरता
(B) प्राथमिक शिक्षा का सार्वभौमिकरण करना
(C) माध्यमिक शिक्षा
(D) उपरोक्त में से कोई नहीं

Question Asked : Bihar Police Sub-Inspector Pre. Exam 2019
Answer : प्राथमिक शिक्षा का सार्वभौमिकरण करना
Explanation : मध्याह्न भोजन योजना, भारत सरकार की एक योजना है, जिसके अन्तर्गत देश के प्राथमिक और लघु माध्यमिक विद्यालयों के छात्रों को दोपहर का भोजन नि:शुल्क प्रदान किया जाता है। इसका उद्देश्य छात्रों के पोषण स्तर को उन्नत करना तथा प्राथमिक शिक्षा का सार्वभौमिकरण करना करना है। यह योजना 15 अगस्त, 1995 को लागू की गई थी। इसके अन्तर्गत कक्षा 1 से 5 तक के सरकारी परिषदीय राज्य सरकार द्वारा सहायता प्राप्त प्राथमिक विद्यायों में पढ़ने वाले सभी विधार्थियों को, जिनकी उपस्थिति 80% है, उन्हें हर महीने 3 किग्रा गेहूं या चावल दिए जाने का प्रावधान था, किन्तु 28 नवम्बर, 2001 को सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिए गए आदेश में 1 सितम्बर, 2004 से पका हुआ भोजन प्राथमिक विद्यालयों में उपलब्ध कराए जाने की योजना आरम्भ कर दी है।
Tags : अर्थव्यवस्था प्रश्नोत्तरी
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Madhyan Bhojan Yojna Ka Kya Arth Hai