महाबलीपुरम के मंदिरों का निर्माण किस वंश ने करवाया था?

(A) चोलों वंश
(B) पल्लवों वंश
(C) चेदियों वंश
(D) चालुक्यों वंश

Question Asked : [UPPCS (Pre) GS Ist History 2014]
Answer : पल्लवों वंश
Explanation : महाबलीपुरम के मंदिरों का निर्माण पल्लवों वंश ने करवाया था। कांचीपुरम में मिले शिलालेख के अनुसार, महाबलीपुरम के स्मारकों को पल्लव राजा महेन्द्र वर्मन (580-630 ईसवी) और उनके बेटे नरसिंह वर्मन (630-668 ईसवी) और उनके वंशजों ने बनवाया था। महाबलीपुरम प्रसिद्ध पल्लव साम्राज्य का प्राचीन समुद्र बंदरगाह था, पल्लवों ने कांचीपुरम को राजधानी बनाकर तीसरी से आठवीं सदी के बीच शासन किया था।

मंदिरों का शहर महाबलीपुरम तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई से 55 किलोमीटर दूर बंगाल की खाड़ी के तट पर स्थित है, प्रारंभ में इस शहर को मामल्लापुरम कहा जाता था, तमिलनाडु का यह प्राचीन शहर अपने भव्य मंदिरों स्थापत्य और सागर तटों के लिए बहुत प्रसिद्ध है, द्रविड वास्तुकला की दृष्टि से यह शहर अग्रणी स्थान रखता है, महाबलीपुरम के लोकप्रिय रथ दक्षिण सिरे पर स्थित हैं, महाभारत के पांच पांडवों के नाम पर इन रथों को पांडव रथ कहा जाता है, पांच में से चार रथों को एकल चट्टान पर उकेरा गया है, द्रौपदी और अर्जुन रथ वर्ग के आकार का है, जबकि भीम रथ रखीय आकार में है, धर्मराज रथ सबसे ऊंचा है, इसमें द्रौपदी के पांच रथमंदिर हुए क्योंकि उसके पांच पति थे, इसे 1984 में यूनेस्को ने विश्व धरोहर स्थल घोषित किया।
Tags : इतिहास प्रश्नोत्तरी, प्राचीन काल भारत, मध्यकालीन भारत
Useful for : UPSC, State PSC, SSC, Railway, NTSE, TET, BEd, Sub-inspector Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Mahabalipuram Ke Mandiro Ka Nirman Kis Vansh Ne Karwaya Tha