महानुभाव संप्रदाय का संस्थापक कौन था?

(A) एकनाथ
(B) चक्रधर
(C) ज्ञानेश्वर
(D) तुकाराम

Question Asked : [IAS (Pre) Opt. History 2010]
Answer : चक्रधर
मध्यकालीन भक्त-आंदोलनों के विकास तथा लोकप्रियता में महाराष्ट्र के संतों का महत्वपूर्ण योगदान है। ज्ञानेश्वर, हेमाद्रि और चक्रधर से आरंभ होकर रामदास, तुकाराम, नामदेव ने भक्ति पर बल दिया तथा एक भगवान की संतान होेने के नाते सबकी समानता के सिद्धांत को प्रतिष्ठित किया। महानुभाव संप्रदाय के संस्थापक चक्रधर थे। ज्ञानेवश्वर महाराष्ट्र में रहस्यवादी संप्रदाय के संस्थापक थे। यह संप्रदाय आगे चलकर विकसित हुआ तथा नामदेव, एकनाथ और तुकाराम के हाथों इसने विभिन्न रूप धारण किए। ज्ञानेश्वर ने मराठी भाषा में भगवतगीता पर ज्ञानेश्वरी नामक टीका (समीक्षा) लिखी जिसकी गणना संसार की सर्वोत्तम रहस्यवादी रचनाओं में की जाती है। एकनाथ का जन्म पैठण (औरंगाबाद) में हुआ था। प्रतिदिन कीर्तन (भक्तिगीत) गाना इनकी दिनचर्या थी। तुकाराम जनम से शूद्र थे और शिवाजी के समकालीन थे। तुकराम ने हिंदू मुस्लिम एकता पर बल दिया था बारकरी पंथ की स्थापना की।
Tags : इतिहास प्रश्नोत्तरी, प्राचीन काल भारत, मध्यकालीन भारत
Useful for : UPSC, State PSC, SSC, Railway, NTSE, TET, BEd, Sub-inspector Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Mahanubhav Sampraday Ka Sansthapak Kon Tha