मीर सैयद अली और अब्दुस्समद इनके समय दरबारी​ चित्रकार थे?

(A) हुमायूं, अकबर
(B) अकबर, जहांगीर
(C) जहांगीर, शाहजहां
(D) शाहजहां, औरंगजेब

Question Asked : [MPPSC (Pre) Opt. History 2010]
Answer : हुमायूं, अकबर
भारत में मुगलों ने चित्रकला की जिस शैली की नींव डाली, वह एक ऐसे उन्नतिशील और शक्तिशाली का आंदोलन के रूप में विकसित हुई जिन्होंने उत्तरवर्ती मध्यकालीन युग में भारतीय कला के इतिहास की धारा को बदल दिया। अब्दुल समद और मीर सैयद अली को मुगल चित्र-शैली का संस्थापक माना जाता है इनको मुगल शासक हुमायूं फारस से लाया था। हुूमायूं नेमीर सैयद अली को 'नादिर-उल-अस्त्र' तथा अब्दुल समद को 'शीरी कलम' की उपाधि प्रदान की थी। इन दोनों कलाकरों ने जो कृतियां तैयार की उनमें से कुछ बादशाह जहांगीर के लिए तैयार की गयी गुलशन चित्र शैली में संकलित है, जो अब तेहरान की गुलिस्ता महल में संरक्षित है। हुमायूं की काबुल चित्रशाला में कौन-कौन सी कृतियां तैयार हुई उसका ब्योरा नहीं मिलता क्योंकि किसी भी समसामयिक इतिवृत्ति मे इसके बारे में कुछ भी नहीं कहा गया है। मीर सैयदअली और अब्दुल समद अकबर के काल में भी थे।
Tags : इतिहास प्रश्नोत्तरी, प्राचीन काल भारत, मध्यकालीन भारत
Useful for : UPSC, State PSC, SSC, Railway, NTSE, TET, BEd, Sub-inspector Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Meer Syed Ali Aur Abdussamad Inke Samay Darbari Chitrakar The