मौनं सर्वार्थ साधनं का अर्थ

(A) सन्तोष सबसे बड़ा सुख है।
(B) चुप रहने से सब काम हो जाते हैं।
(C) आहार, व्यवहार में लल्जा छोड़ने से ही सुख मिलता है।
(D) कुटिल मनुष्यों के साथ सरलता का व्यवहार नीति-युक्त नहीं है।

Answer : चुप रहने से सब काम हो जाते हैं।
Explanation : मौनं सर्वार्थ साधनं का अर्थ चुप रहने से सब काम हो जाते हैं। यह संस्कृत की प्रसिद्ध कहावत है। मौनं सर्वार्थ साधनं श्लोक, मौनं सर्वार्थ साधनं मीनिंग इन हिंदी शब्दार्थ है चुप रहने से सब काम हो जाते हैं। संस्कृत के मुहावरे एवं संस्कृत लोकोक्तियाँ के अर्थ सामान्य हिंदी के पेपर में अक्सर पूछे जाते है। संस्कृत की एक प्रचलित कहावत यह भी है–
कृशेकस्यास्ति सौह्रदम्?
अर्थ – गरीब का कौन मित्र?
Tags : संस्कृत मुहावरे, संस्कृत लोकोक्तियाँ
Useful for : UPSC, State PSC, SSC, Railway, NTSE, TET, BEd, Sub-inspector Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Mounam Sarvartha Sadhanam