मुगलकालीन भारत में राज्य की आय का प्रमुख स्रोत क्या था?

(A) लूट
(B) राजगत संपत्ति
(C) भू-राजस्व
(D) कर

Answer : भू-राजस्व
Explanation : मुगलकालीन भारत में राज्य को भू-राजस्व से ही सर्वाधिक आय होती थी। भू राजस्व प्रणाली के स्रोतों को दो भागों में 1. केन्द्रीय आय के स्रोत और 2. स्थानीय स्रोत में विभाजित किया गया था। इसके अलावा मुगल भूमि को तीन भागों में बाँटा गया था। इसमें खालिसा भूमि शाही भूमि होती थी और इस भूमि से प्राप्त आय सीधे शाही खजाने में जमा होती थी। जागीर भूमि राज्य के प्रमुख सरदारों या व्यक्तियों को उनके वेतन के ऐवज में दी जाती थी, जिस पर उन्हें कर वसूल करने का अधिकार होता था किन्तु प्रशासनिक अधिकार नहीं होता था। सयूरगल या मदद-ए-माश भूमि को अनुदान के रूप में विद्वानों एवं धार्मिक व्यक्तियों को दिया जाता था। जिस पर अनुदान ग्राही का वंशानुगत अधिकार होता था। यद्यपि यह भूमि अधिकतर अनुत्पादक होती थी।
Tags : इतिहास प्रश्नोत्तरी, मध्यकालीन भारत प्रश्नोत्तरी
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Mugal Kalin Bharat Mein Rajya Ki Aay Ka Pramukh Srot Kya Tha