नरमपंथी और चरमपंथी दो गुटों में कांग्रेस का विभाजन कब हुआ?

(A) वर्ष 1906 में
(B) वर्ष 1907 में
(C) वर्ष 1908 में
(D) वर्ष 1910 में

Answer : वर्ष 1907 में
Explanation : नरमपंथी और चरमपंथी दो गुटों में कांग्रेस का विभाजन वर्ष 1907 में हुआ। रास बिहारी घोष की अध्यक्षता में वर्ष 1907 में कांग्रेस का अधिवेशन सूरत में हुआ था। इस अधिवेशन में कांग्रेस का प्रथम विभाजन दो गुटों चरमपंथी एवं नरमपंथी में हो गया। विभाजन का मूल कारण अध्यक्ष पद था। चरमपंथी जहां लाला लाजपत राय को इस अधिवेशन का अध्यक्ष बनाना चाहते थे वहीं उदारवादी रास बिहारी घोष को अध्यक्ष बनाना चाहते थे, साथ ही सम्मेलन में चरमपंथियों द्वारा वर्ष 1906 में पास करवाए गए चार प्रस्ताव-स्वदेशी, बहिष्कार, राष्ट्रीय शिक्षा और स्वशासन को लेकर विवाद और गहरा हो गया। वर्ष 1916 में कांगेस के वार्षिक अधिवेशन (लखनऊ) में काँग्रेस के दोनों गुटों (चरमपंथी एवं नरमपंथी) का विलय हो गया। इस अधिवेशन की अध्यक्षता आम्बिकाचरण मजूमदार ने की थी।
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Narampanthi Aur Charampanthi Do Guto Mein Congress Ka Vibhajan Kab Hua