पहला पराक्रम दिवस कब मनाया गया?

(A) 23 जनवरी, 2020
(B) 23 जनवरी, 2019
(C) 23 जनवरी, 2021
(D) 23 जनवरी, 2018

Answer : 23 जनवरी, 2021
Explanation : पहला पराक्रम दिवस 23 जनवरी, 2021 को मनाया गया था। इस दिन नेताजी सुभाष चंद्र बोस की आज 125वीं जयंती थी। इसी उपलक्ष्य में भारत सरकार ने फैसला लिया, कि अब हर साल 23 जनवरी यानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जन्मदिन को पराक्रम दिवस के रूप में मनाया जाएगा। सुभाष चंद्र बोस का जन्म 23 जनवरी, 1897 को उड़ीसा के कटक शहर में हुआ था। उनके पिता का नाम जानकीनाथ बोस और मां का नाम प्रभावती था। जानकीनाथ कटक के मशहूर वकील थे। सुभाष ने 1920 की आईसीएस परीक्षा में चौथा स्थान पाया, मगर उनका मन अंग्रेजों के अधीन काम करने का नहीं था। इसलिए 22 अप्रैल 1921 को उन्होंने त्यागपत्र दे दिया। गांधी जी से उनकी पहली मुलाकात 20 जुलाई 1921 को हुई थी। गांधी जी की सलाह पर वे भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के लिए काम करने लगे। अपने सार्वजनिक जीवन में सुभाष को कुल 11 बार कारावास की सजा दी गई थी। सबसे पहले उन्हें 16 जुलाई 1921 को छह महीने का कारावास दिया गया था। 18 अगस्त 1945 को वे हवाई जहाज से मंचूरिया जा रहे थे। इस सफर के दौरान ताइहोकू हवाई अड्डे पर विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिसमें उनकी मौत हो गई। उनकी मौत भारत के इतिहास का सबसे बड़ा रहस्य बनी हुई है।
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Pahla Parakram Divas Kab Manaya Gaya