पानीपत का तृतीय युद्ध किसके बीच हुआ था?

(A) ब्रिटिश और मराठों के बीच
(B) ब्रिटिश और फ्रांसीसियों के बीच
(C) अहमदशाह अब्दाली और मराठों के बीच
(D) शिवाजी और शाइस्ता खां के बीच

Question Asked : [MPPSC (Pre) GS Ist 1998]
Answer : अहमदशाह अब्दाली और मराठों के बीच
पानीपत का तृतीय युऋ 14 जनवरी, 1761 ई. को अफगानी अहमदशाह अब्दाली और मराठा सेना के बीच हुआ, जिसमें मराठा सेना बुरी तरह पराजित हुई। इस युद्ध में मराठों की ओर से नाममात्र का सेनापति पेशवा का पुत्र विश्वास राव और वास्तविक सेनापति सदाशिव राव भाऊ था। इस सेना में यूरोपीय पद्धति से सुसज्जित पैदल सेना तथा तोपखाने की टुकड़ी थी, जिसका नेता इब्राहिम खां गार्दी था। लेकिन मराठों के अराजक व्यवहार के कारण उन्हें राजपूताना, अवध, पंजाब या जाटों से कोई सहायता नहीं मिली। अब्दाली की सेना (60,000) में आधे उसके भारतीय समर्थक थे। मराठों की सेना की संख्या 45,000 थी। अब्दाली की सेना का संचालन उसका वजीर शाह अली खां कर रहा था। यह सेना बीच में थी, जबकि दायीं ओर नजीब और शुजा तथा बायीं ओर रूहेला थे। दूसरी ओर सदाशिव भाऊ ने मराठों को तीन पंक्तियों में विभाजित किया था। जबकि इब्राहिम खां गार्दी के सिपाही बायीं ओर और मल्हार रव होल्कर और जनकोजी सिंधिया दांयी ओर थे। युद्ध में विश्वास राव और सदाशिव भाऊ मारे गये। मराठों को अपार क्षति का सामना करना पड़ा।
Tags : इतिहास प्रश्नोत्तरी, प्राचीन काल भारत, मध्यकालीन भारत
Useful for : UPSC, State PSC, SSC, Railway, NTSE, TET, BEd, Sub-inspector Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Panipat Ka Tritiya Yudh Kiske Beech Hua Tha