प्लेट विवर्तनिकी सिद्धांत का प्रतिपादन किसने किया था?

(A) जे. टूजो विल्सन
(B) हैरी हेस
(C) मोर्गन
(D) मैकेंजी

Answer : हैरी हेस
Explanation : प्लेट विवर्तनिकी सिद्धांत का प्रतिपादन वर्ष 1962 में हैरी हेस ने किया था। किन्तु इसकी वैज्ञानिक व्याख्या का श्रेय मोर्गन को जाता है। यह सिद्धांत समुद्र तल विस्तारण सिद्धांत पर आधारित है। एक प्लेट ठोस चट्टान का विशाल व अनियमित आकार का खंड है, जो महाद्वीपीय व महासागरीय स्थलमण्डलों से मिलकर बना है। ये प्लेटे एस्थोनी फीयर की सतह पर गतिशील रहती हैं। एस्थोनीस्फीयर अर्द्ध-पिघली अवस्था वाली परत है। बता दे कि वर्ष 1955 में सर्वप्रथम कनाडा के भू-वैज्ञानिक जे. टूजो विल्सन (J-Tuzo Wilson) ने ‘प्लेट’ शब्द का प्रयोग किया। वर्ष 1967 में मैकेंजी, मॉर्गन व पारकर पूर्व के उपलब्ध विचारों को समन्वित कर ‘प्लेट विवर्तनिकी सिद्धांत’ का प्रतिपादन किया।
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Plate Vivartaniki Siddhant Ka Pratipadan Kisne Kiya Tha