प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष सहयोग की अवधारणा किसने दी?

(A) ग्रीन
(B) वेबर
(C) मैकाइवर एवं पेज
(D) जॉन्सन

Answer : मैकाइवर एवं पेज
Explanation : प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष सहयोग की अवधारणा मैकाइवर एवं पेज ने दी। सामाजिक जीवन में सहयोग के अनेक रूप हैं। प्रत्यक्ष सहयोग में व्यक्ति समान कार्य को मिलकर करते हैं, अर्थात् एक-सा कार्य करते हैं। जब दो या दो से अधिक व्यक्ति अथवा समूह समान उद्देश्य के लिए एकदूसरे के साथ मिलकर समान कार्य करें, तो इसे प्रत्यक्ष सहयोग कहते हैं। इसमें व्यक्तियों के बीच आमने-सामने के संबंध पाये जाते हैं। उदाहरण स्वरूप पत्थरों के ढेर को हटाना, आमचुनाव में किसी प्रत्याशी को विजयी बनाने के लिए कुछ लोगों द्वारा मिलकर प्रचार करना, प्रत्यक्ष सहयोग का उदाहरण है। इस प्रकार के सहयोग में आमने-सामने की स्थिति कार्यपूर्ति की प्रेरणा प्रदान करती है, या इसमें उन्हें सामाजिक संतुष्टि मिलती है। अप्रत्यक्ष सहयोग इस श्रेणी में वे क्रियाऐं सम्मिलित हैं, जिनमें व्यक्ति समान उद्देश्य की पूर्ति हेतु असमान, अर्थात् भिन्न-भिन्न कार्य करते हैं। दूसरे शब्दों में इस प्रकार के सहयोग में व्यक्तियों का उद्देश्य तो समान होता है, परंतु वे इस उद्देश्य को असमान कार्यों द्वारा प्राप्त करते हैं। प्रत्येक व्यक्ति का एक विशिष्ट कार्य होता है। उदाहरण स्वरूप किसी महाविद्यालय या विश्वविद्यालय के विभिन्न कर्मचारियों के बीच पाया जाने वाला सहयोग अप्रत्यक्ष सहयोग का ही उदाहरण है। यहां कर्मचारी अलग-अलग कार्य करते हुए समान उद्देश्य की पूर्ति में सहयोग देते हैं। श्रम विभाजन अप्रत्यक्ष सहयोग का सबसे अच्छा उदाहरण है, जो दुर्थीम के द्वारा दिया गया है।
Tags : समाजशास्त्र प्रश्नोत्तरी
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Pratyaksh Evam Apratyaksh Sahyog Ki Avdharna Kisne Di