प्रत्यक्ष जीवन शास्त्र के रचयिता थे?

(A) माणिक्य लाल वर्मा
(B) जमनालाल बजाज
(C) हीरालाल शास्त्री
(D) पंडित नयनूरात शर्मा

Question Asked : [RAS/RTS Pre. 1994]
Answer : हीरालाल शास्त्री
Explanation : प्रत्यक्ष जीवन शास्त्र के रचयिता पंडित हीरालाल शास्त्री थे। यह उनकी आत्मकथा थी। 30 मार्च, 1949 को संयुक्त राजस्थान में 4 बड़ी रियासतों– जयपुर, बीकानेर, जोधपुर एवं जैसलमेर के मिलने पर इसका नाम वृहत् राजस्थान रखा गया एवं जयपुर के स्वतंत्रता सैनानी हीरालाल शास्त्री को प्रथम प्रधानमंत्री बनाया गया। बाद में संविधान लागू होने पर इनका पदनाम मुख्यमंत्री हो गया था। पंडित हीरालाल शास्त्री राजस्थान के प्रथम मुख्यमंत्री के रूप में 30 मार्च 1948 से 5 जनवरी 1951 तक रहे थे। हीरालाल शास्त्री का जन्म 24 नवंबर 1899 को जयपुर जिले में जोबनेर के एक किसान परिवार में हुआ था। उनकी प्रारम्भिक शिक्षा जोबनेर में हुई। 1920 में उन्होंने साहित्य-शास्त्री की डिग्री प्राप्त की। 1921 में जयपुर के महाराजा कालेज से बी.ए. किया और वे इस परीक्षा में सर्वप्रथम आए। उनका निधन 28 दिसंबर 1974 को हुआ।
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Pratyaksh Jeevan Shastra Ke Rachayita The