रेगुलेटिंग एक्ट कब पारित हुआ था?

(A) वर्ष 1773 में
(B) वर्ष 1774 में
(C) वर्ष 1784 में
(D) वर्ष 1793 में

Answer : वर्ष 1773 में
Explanation : रेगुलेटिंग एक्ट 1773 में पारित हुआ था। बंगाल के गवर्नर वारेन हेस्टिंस के समय ब्रिटिश संसद द्वारा कंपनी की गतिविधियों, ब्रिटिश सरकार को निगरानी में लाने, कंपनी की संचालन समिति में आमूल–चूल परिवर्तन करने तथा कंपनी के राजनीतिक अस्तित्व को स्वीकार कर उसके व्यापारिक ढांचे को राजनीतिक कार्यों के संचालन योय बनाने हेतु रेगुलेटिंग एक्ट 1773 पारित किया। 1774 में लागू किए गए इस एक्ट के प्रमुख प्रावधान थे–1. कोर्ट ऑफ डायरेक्टर का कार्यकाल 1 वर्ष से बढ़ाकर 4 वर्ष किया गया, 2. बंगाल प्रेसीडेंसी के गवर्नर को अंग्रेजी क्षेत्रों का गवर्नर जनरल कहा जाने लगा तथा मद्रास व बम्बई के गवर्नर उसके अधीन हो गए, 3. कलकत्ता में एक सर्वोच्च न्यायालय की स्थापना की गई जिसमें एक मुख्य न्यायाधीश व तीन अन्य न्यायाधीश रखे गए। सर्वोच्च न्यायालय का कार्यक्षेत्र बंगाल, बिहार एवं उड़ीसा तक सीमित था, 4. बिना लाइसेंस के कंपनी के कर्मचारियों के निजी व्यापार को प्रतिबंधित कर दिया गया, 5. गवर्नर जनरल को अध्यादेश जारी करने का अधिकार दिया गया। 1784 में पारित ‘पिट्स इंडिया एक्ट’ के द्वारा ‘बोर्ड ऑफ कंट्रोल’ की स्थापना की गई तथा कम्पनी के व्यापारिक एवं राजनीतिक कार्यों को अलग–अलग किया गया।
Tags : आधुनिक भारत प्रश्नोत्तरी, इतिहास प्रश्नोत्तरी, सर्वोच्च न्यायालय
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Regulating Act Kab Parit Hua Tha