सरसों स्त्रीलिंग है या पुल्लिंग

(A) पुल्लिंग
(B) स्त्रीलिंग
(C) स्त्रीलिंग और पुल्लिंग दोनों
(D) इनमें से कोई नहीं

Answer : स्त्रीलिंग
Explanation : सरसों तद्भव स्त्रीलिंग शब्द है। तद्भव शब्दों के लिंगनिर्णय में अधिक कठिनाई होती है। तद्भव शब्दों का लिंगभेद, वह भी अप्राणिवाचक शब्दों का, कैसे किया जाय और इसके सामान्य नियम क्या हों, इसके बारे में विद्वानों में मतभेद है। पंडित कामताप्रसाद गुरु ने हिंदी के तद्भव शब्दों को परखने के लिए पुल्लिंग के तीन और स्त्रीलिंग के दस नियमों का उल्लेख अपने हिंदी व्याकरण में किया है। उसमें अनुस्वारांत संज्ञाएँ जैसे- सरसों, खड़ाऊँ, भौं, चूँ, जूँ इत्यादि सदैव स्त्रीलिंग होते है। इसमें अपवाद- गेहूँ हैं। लिंग संबंधी प्रश्न सामान्यत: सामान्य हिंदी के प्रश्नपत्र के अलावा बैंक, रेलवे और बीएड आदि परीक्षाओं में पूछे जाते है। स्त्रीलिंग की परिभाषा : संज्ञा के जिस रूप से किसी वस्तु की स्त्री या मादा जाति का बोध होता है, उसे स्त्रीलिंग कहते हैं।
Tags : पुल्लिंग शब्द, पुल्लिंग स्त्रीलिंग शब्द, स्त्रीलिंग शब्द
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Sarson Striling Hai Ya Pulling