सर्वे गुणा कांचनम् आश्रयन्ते का अर्थ

(A) निवृक्ष प्रदेश में एरण्ड भी पेड़ कहलाने लगता है।
(B) एक स्थान पर सब गुण नही मिलते।
(C) सर्प को दूध पिलाना उसके विष को बढ़ाना है।
(D) धन में सब गुण निवास करते हैं।

Answer : धन में सब गुण निवास करते हैं।
Explanation : सर्वे गुणा कांचनम् आश्रयन्ते का अर्थ धन में सब गुण निवास करते हैं। यह संस्कृत की प्रसिद्ध कहावत है। सर्वे गुणा कांचनम् आश्रयन्ते श्लोक, सर्वे गुणा कांचनम् आश्रयन्ते मीनिंग इन हिंदी शब्दार्थ है धन में सब गुण निवास करते हैं। संस्कृत के मुहावरे एवं संस्कृत लोकोक्तियाँ के अर्थ सामान्य हिंदी के पेपर में अक्सर पूछे जाते है। संस्कृत की एक प्रचलित कहावत यह भी है–
परोपदेश वेलायां शिष्टा: सर्वे भवन्ति वै।
अर्थ – परोपदेश करते समय सभी लोग सज्जन और शिष्ट बन जाते हैं।
मुण्डे मुण्डे रुचिर्हिभित्रा।
अर्थ – भिन्न-भिन्न मनुष्य की प्रवृत्ति भिन्न होती है।
Tags : संस्कृत मुहावरे, संस्कृत लोकोक्तियाँ
Useful for : UPSC, State PSC, SSC, Railway, NTSE, TET, BEd, Sub-inspector Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Sarve Gunah Kanchanam Aashrayante