सठ सुधरहिं सतसंगति पाईं में कौन सा अलंकार है?

(A) दृष्टान्त अलंकार
(B) उपमा अलंकार
(C) रूपक अलंकार
(D) उत्प्रेक्षा अलंकार

Answer : दृष्टान्त अलंकार
Explanation : सठ सुधरहिं सतसंगति पाई। पारस परस कुधात सुहाई॥ पंक्ति में दृष्टान्त अलंकार होता है। यहां प्रथम वाक्य की सत्यता प्रतिपादित करने के लिए दुष्टांत-रूप में दूसरा वाक्य आया है और दोनों में एक ही विचार बिंदु है– अच्छे के साथ से बुरे का अच्छा हो जाना। इस प्रकार, दोनों वाक्यों में बिम्ब-प्रतिबिम्ब भाव होने से यह दृष्टांत अलंकार है। दृष्टांत अलंकार की परिभाषा – दृष्टांत उपमेय वाक्य और उपमान वाक्य तथा उनके साधारण धर्मों में, बिना वाचक शब्द का प्रयोग किए, बिंब-प्रतिबिंब भाव होने पर दृष्टांत अलंकार होता है। सामान्य हिंदी प्रश्न पत्र में दृष्टांत अलंकार संबंधी प्रश्न पूछे जाते है। इसलिए यह प्रश्न आपके लिए कर्मचारी चयन आयोग, बीएड, आईएएस, सब इंस्पेक्टर, पीसीएस, बैंक भर्ती परीक्षा, समूह 'ग' आदि प्रतियोगी परीक्षाओं के अलावा विभिन्न विश्वविद्यालयों की प्रवेश परीक्षाओं के लिए भी उपयोगी साबित होगें।
Tags : अलंकार, अलंकारिक शब्द, दृष्टान्त अलंकार
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Sath Sudharahi Satsangati Pai Main Alankar