सूर्योदय और सूर्यास्त के समय सूर्य बड़ा क्यों दिखाई देता है?

1. सूर्योदय व सूर्यास्त का सूरज बड़ा दिखाई देता है क्यों?
सूर्योदय व सूर्यास्त के समय सूर्य क्षितिज के पास रहता है और उसकी किरणें पृथ्वी पर तिरछी पड़ती है। इसीलिये उनका अपवर्तन अधिक होता है अत: सूर्य बड़ा दिखाई देता है। दोपहर के समय किरणें सीधी पड़ती है और कम अपवर्तित होती है इसीलिए सूर्य छोटा दिखाई देता है।

2. पानी कांच के गिलास पर चिपकता है किंतु पारा नहीं, ऐसा क्यों?
जल व अणुओं के मध्य आसंजन बल जल के अणुओं के बीच ससंजन बल से अधिक होता है। इसी कारण पानी, कांच के गिलास पर चिपक जाता है। पारे में इसके विपरीत होता है। अत: पारा कांच के गिलास पर नहीं चिपकता है।

3. द्रव की बूंद गोल आकृति में क्यों होती है?
द्रव पृष्ठ तनाव के कारण गोलाकार आकृति बनाए रखता है। इसी गुण के कारण द्रव कम से कम आयतन घेरने का प्रयत्न करता है। किसी गोले का आयतन सबसे कम होता है, अत: द्रव की बूंदे गोलाकार होती है।

4. किसी पेय पदार्थ को ठंडा करने के​ लिए बर्फ का उपयोग क्यों किया जाता है?
बर्फ केा पिघलने के लिए गुप्त ऊष्मा की आवश्यकता पड़ती है। तापान्तर के कारण बर्फ यह गुप्त ऊष्मा पेय पदार्थ से प्राप्त करती है और इस प्रकार तापक्रम को कम कर देती है और पेय पदार्थ ठंडा हो जाता है।

Useful for Exams : Central and State Government Exams
Related Exam Material
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Web Title : suryoday aur suryast ke samay surya bada kyu dikhai deta hai