तीसरी कसम उर्फ मारे गए गुलफाम किसकी रचना है?

(A) फणीश्वरनाथ रेणु
(B) नवीनचंद्र राय
(C) भारतेंदु हरिश्चंद्र
(D) हरिगोपालपाध्ये

Answer : फणीश्वरनाथ रेणु
Explanation : तीसरी कसम उर्फ मारे गए गुलफाम फणीश्वरनाथ रेणु की प्रसिद्ध रचना है। इस कहानी पर फिल्म भी बनी, जो लोकप्रिय सिद्ध हई। इस कहानी का नायक 'हिरामन' नायिका 'हीराबाई' को महुआ घटवारिन का गीत; जिसमें गीत भी है, कथा भी है, सुनाता है। फणीश्वर नाथ 'रेणु' हिंदी भाषा के साहित्यकार थे। उनकी साहित्यिक कृतियाँ हैं; उपन्यास: मैला आंचल, परती परिकथा, जूलूस, दीर्घतपा, कितने चौराहे, पलटू बाबू रोड; कथा-संग्रह: एक आदिम रात्रि की महक, ठुमरी, अग्निखोर, अच्छे आदमी; रिपोर्ताज: ऋणजल-धनजल, नेपाली क्रांतिकथा, वनतुलसी की गंध, श्रुत अश्रुत पूर्वे।
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Teesri Kasam Urf Mare Gaye Gulfam Kahani Kiski Rachna Hai