विद्युत बल्ब में फिलामेंट टंगस्टन के क्यों बने होते हैं?

1. विद्युत लैंप के फिलामेंट टंगस्टन के क्यों बने होते हैं?
एक विद्युत लैंप के जलने पर इसके फिलामेंट का तापमान लगभग 2700°C होता है चूंकि टंगस्टन मेल्टिंग प्वांइट 3410°C इतने अधिक तापमान को वहन करने में सक्षम है, अत: इसे अन्य धातुओं की तुलना में प्राथमिकता दी जाती है।

2. जब जल के ऊपर तेल की परत फैल जाती है तो वह रंगीन दिखाई देती है, क्यों?
प्रकाश के व्यतिकरण के कारण ही रंगों की उत्पत्ति होती है। जब तेल जल पर फैलता है तो एक फिल्म का निर्माण करता है। जबकि की प्रकाश उस फिल्म के फैलने पर दो सतहों से परावर्तित होता है — पहला, फिल्म के शीर्ष से और दूसरा फिल्म के निम्न भाग से जो जल के संपर्क में होता है। फलत: उसके परावर्तन कोणों में परिवर्तित हो जाता है। सभी तरंगदैर्घ्य से असमानताएं होती है। फलत: चमकते रंग की पट्टी फिल्म पर दिखाई पड़ती है।

3. सर्दियों में पानी आपूर्ति वाले पाइल क्यों फट जाते हैं?
सर्दियों में वातावरण का ताप गिर जाता है व इससे पानी भी प्रभावित सर्दियों में होता है। अत: पानी पाइप में जमने लगता है। चूंकि पानी से बर्फ का आयतन अधिक होता है जबकि पाइप का आयतन निश्चित होता है। इसीलिए बर्फ के दबाव से पाइप फट जाता है।

4. रेफ्रिजरेटर में खाना ताजा क्यों बना रहता है?
सामान्य तापमान पर खाद्य पदार्थों से अनेक सूक्ष्मजीव उत्पन्न हो जाते है। व भोजन का रासायनिक अपघटन करके उसे खराब कर देते हे। रेफ्रीजरेटर में ताप काफी कम होता है और इससे सूक्ष्म जीवाणुओं की क्रियाशीलता कम हो जाती है। इसीलिए खाना अधिक समय तक ताजा बना रहता है।

Useful for Exams : Central and State Government Exams
Related Exam Material
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Web Title : vidyut bulb me filament tangastan ke kyon bane hote hain