किस विदेशी यात्री ने भारत के हीरों और हीरे की खदानों की विस्तृत चर्चा की?

(A) फ्रांस्वा बर्नियर
(B) जीन-बैप्टिस्ट टैवर्नियर
(C) ज्याँ द थेवेनो
(D) एबे बार्थेलेमी कारे

asked-questions
Question Asked : Civil Services (Preliminary) Examination, 2018
Answer : जीन-बैप्टिस्ट टैवर्नियर (Jean-Baptist Tavernier)
जीन बैप्टिस्ट टैवर्नियर 17 वीं शताब्दी का सर्वाधिक ख्याति-प्राप्त फ्रांसीसी यात्री था। वह पेशे से जौहरी था तथा शाहजहाँ के काल में भारत आया था। वह एक अनुभवी एवं साहसिक यात्री था। अपनी यात्रा के दौरान उसे गोलकुण्डा में हीरे की खानों के बारे में पूछताछ की थी तथा सम्भवत: खानों को देखा भी था। उसने अपने विवरण में बाजार, सर्राफ, महाजन, हीरे-जवाहरात आदि का विस्तृत विवरण प्रस्तुत किया है। कुल मिलाकर ट्रैवनिर्यर का वृत्तांत मुगल साम्राज्य के इतिहास के लिए विशेष रूप से आर्थिक इतिहास की जानकारी के लिए अत्यन्त महत्वपूर्ण है।
Tags : इतिहास प्रश्नोत्तरी
Useful for : Quiz Programme, Interview & Competitive Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Which Foreign Traveler Discussed A Wide Range Of Diamonds And Diamond Mines In India