विडाल (Widal) परीक्षण क्या है?

(A) टायफायड बुखार की पहचान करने हेतु परीक्षण
(B) एड्स का पता लगाने के लिए परीक्षण
(C) दस्त के कारणों का पता लगाने हेतु परीक्षण
(D) पेचिश के कारणों का पता लगाने हेतु परीक्षण

Answer : टायफायड बुखार की पहचान करने हेतु परीक्षण
Explanation : विडाल टेस्ट एक ऐसी जांच है जिसमें इस बात का पता लगाया जाता है कि रोगी को टायफाइड है या नहीं। विडाल टेस्ट (Widal test) की सबसे अधिक जरूरत बरसात के मौसम में ही पड़ती है। क्योंकि टायफाइड (Typhoid Fever) जैसा रोग इसी मौसम में ही अधिक फैलता है। विडाल टेस्ट 1896 में प्रमुख रूप से विकसित हुआ। इसका नाम जार्ज फर्नान्ड विडाल के नाम पर रखा गया। बता दे कि टायफाइड दूषित भोजन और दूषित पानी के कारण फैलता है। टायफाइड के लक्षणों में तेज बुखार, पेट दर्द, उल्टी या लूज मोशन जैसी दिक्कतें हैं। वहीं कुछ लोगों को टायफाइड के दौरान कब्ज की समस्या हो जाती है।
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Widal Parikshan Kya Hai