‘जेंद अवेस्ता’ किसकी पवित्र पुस्तक है?

(A) पारसी
(B) जैन
(C) यहूदी
(D) बौद्ध

Answer : पारसी
Explanation : 'जेंद अवेस्ता' पारसी की पवित्र पुस्तक है। बाद की रचनाएं अवेस्ता कहलाती हैं। अवेस्थन रचनाओं के अनुवाद को जेंद के नाम से जाना जाता है। जिस भाषा के माध्यम का आश्रय लेकर जरथुस्त्र धर्म का विशाल साहित्य निर्मित हुआ है उसे अवेस्ता कहते हैं। अवेस्ता या "ज़ेंद अवेस्ता" नाम से भी धार्मिक भाषा और धर्म ग्रंथों का बोध होता है। उपलब्ध साहित्य में इसका प्रमाण नहीं मिलता कि पैंगंबर अथवा उनके समकालीन अनुयायियों के लेखन अथवा बोलचाल की भाषा का नाम क्या था। परंतु परंपरा से यह सिद्ध है कि उस भाषा और साहित्य का भी नाम "अविस्तक" था।
Tags : इतिहास प्रश्नोत्तरी, विश्व इतिहास प्रश्नोत्तरी
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Zend Avesta Kiski Pavitra Pustak Hai