अशोक चक्र कहाँ से लिया गया है?

Ashok Chakra taken from where

(A) जगन्नाथ मंदिर
(B) अंकोरवाट मंदिर
(C) दिलवाड़ा मंदिर
(D) सारनाथ मंदिर

constitution-of-india
Correct Answer : सारनाथ मंदिर
Explanation : अशोक चक्र सारनाथ मंदिर से लिया गया है। तीसरी शताब्‍दी ईसा पूर्व में मौर्य सम्राट अशोक द्वारा बनाए गए सारनाथ मंदिर के बहुत से शिलालेखों पर प्रायः एक 'चक्र' (पहिया) बना हुआ है। इसे 'अशोक चक्र' कहते हैं, जिसे भारत में 'धर्म चक्र' माना गया है। इस चक्र का आशय है कि- जीवन गति‍शील है और रुकने का अर्थ मृत्‍यु है। 'चक्र' का अर्थ संस्कृत में पहिया होता है। चक्र स्वत: परिवर्तित होते रहने वाले समय का प्रतीक है। हिन्दू मान्यताओं के अनुसार संसार को चार युगों से होकर गुजरना पड़ता है, जिन्हें सतयुग, त्रेता, द्वापर एवं कलि के नाम से जाना जाता है।
Useful for Exams : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
नवीनतम करेंट अफेयर्ससामान्य ज्ञान से जुड़े हर प्रश्न उत्तर को पाने के लिए GKPU फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
Web Title : ashok chakra kaha se liya gaya hai
Tags : भारतीय संविधान प्रश्नोत्तरी, संविधान, संविधान सभा, सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी
Always Ask Questions
Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *