हिंदी दिवस 14 सितम्बर को ही क्यों मनाया जाता है?

Hindi Day is celebrated on

(A) अंग्रेजी भाषा के प्रभाव को कम करना
(B) हिन्दी कम बोली जाने वाली भाषा
(C) हिन्दी को राजभाषा का दर्जा मिला
(D) हिन्दी सर्वाधिक बोली जाने वाली भाषा

Correct Answer : हिन्दी को राजभाषा का दर्जा मिला
Explanation : हिंदी दिवस–14 सितम्बर 1949 के दिन हिन्दी को राजभाषा का दर्जा मिला था। तब से हर साल यह दिन हिन्दी दिवस के तौर पर मनाया जाता है। दरअसल भारत साल 1947 में जब अंग्रेजी हुकूमत से आजाद हुआ, तो देश के सामने भाषा को लेकर सबसे बड़ा सवाल था, क्योंकि भारत में सैकड़ों भाषाएँ और बोलियाँ बोली जाती है। 6 दिसम्बर, 1946 में आजाद भारत का संविधान तैयार करने के लिए संविधान का गठन हुआ। संविधान सभा ने 26 नवम्बर, 1949 को संविधान के अन्तिम प्रारूप को मंजूरी दे दी। आजाद भारत का संविधान 26 जनवरी, 1950 से पूरे देश में लागू हुआ। लेकिन भारत की कौन सी राष्ट्रभाषा चुनी जाएगी ये मुद्दा काफी अहम था। काफी सोच विचार के बाद हिन्दी और अंग्रेजी को नए राष्ट्र की भाषा चुना गया। संविधान सभा ने देवनागरी लिपि में लिखी हिन्दी को अंग्रेजों के साथ राष्ट्र की आधिकारिक भाषा के तौर पर स्वीकार किया था। 14 सितम्बर, 1949 संविधान सभा ने एक मत से निर्णय लिया कि हिन्दी ही भारत की राजभाषा होगी। देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु ने कहा कि इस दिन के महत्व को देखते हुए हर साल 14 सितम्बर को हिन्दी दिवस मनाया जाए। पहला हिन्दी दिवस 14 सितम्बर, 1953 में मनाया गया था।
Useful for Exams : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
नवीनतम करेंट अफेयर्ससामान्य ज्ञान से जुड़े हर प्रश्न उत्तर को पाने के लिए GKPU फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
Web Title : hindi diwas 14 september ko hi kyu manaya jata hai
Tags : दिवस
Always Ask Questions
Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *