हिंदी भाषा में कितने स्वर और कितने व्यंजन हैं?

(A) 10 स्वर और 30 व्यंजन
(B) 11 स्वर और 33 व्यंजन
(C) 33 स्वर और 11 व्यंजन
(D) 13 स्वर और 31 व्यंजन

Answer : 11 स्वर और 33 व्यंजन
Explanation : हिंदी भाषा में 11 स्वर और 33 व्यंजन हैं। स्वर (vowel) उन ध्वनियों को कहते हैं जो स्वतंत्र रूप से बोला जा सके। सरल शब्दों में कहे तो जो बिना किसी अन्य वर्णों की सहायता के उच्चारित किया जा सके, जैसे– अ आ इ ई उ ऊ ऋ ए ऐ ओ औ। व्यंजन (Consonants) उन ध्वनियों को कहते हैं जो वर्ण स्वरों की सहायता से बोले जाते हैं यानी जिनके उच्चाहरण के लिये किसी स्वर की जरुरत होती है।परम्परागत रूप से व्यंजनों की संख्या 33 मानी जाती है परन्तु द्विगुण/उत्क्षिप्त व्यंजन (ड़, ढ़) के मिलने से इनकी संख्या 35 हो जाती है। आपको बता दे कि हिंदी भाषा का जन्म संस्कृत भाषा से हुआ है। हिंदी को नागरी या देवनागरी के नाम से जाना जाता है। भाषा, संस्कृत के भाषु धातु से बना है जिसका अर्थ होता है-बोलना। भाषा की सबसे छोटी इकाई वर्ण होती है।
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Hindee Bhaasha Mein Kitane Svar Aur Kitane Vyanjan Hain